Tuesday, 23 May, 2023

SILWANI MP KHULASA//श्रीमद्भागवत कथा के छठे दिन श्रीकृष्ण-रुक्मिणी विवाह का प्रसंग,

//सिलवानी खुलासा उवेश खान//

श्रीमद्भागवतकथा के छठे दिन श्रीकृष्ण-रुक्मिणी विवाह का प्रसंग
सिलवानी- के ग्राम रामपुरा खुर्द में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के छठे दिन श्रीकृष्ण-रुक्मिणी विवाह का प्रसंग सुनाया गया। छठे दिन व्यास पीठ पर विराजमान कथावाचक पंडित नरेश शास्त्री ने रास पांच अध्याय का वर्णन किया।
उन्होंने कहा कि महारास में पांच अध्याय हैं। उनमें गाये जाने वाले पंच गीत भागवत के पंच प्राण हैं जो भी ठाकुरजी के इन पांच गीतों को भाव से गाता है वह भव पार हो जाता है। उन्हें वृंदावन की भक्ति सहज प्राप्त हो जाती है। कथा में भगवान का मथुरा प्रस्थान, कंस का वध, महर्षि संदीपनी के आश्रम में विद्या ग्रहण करना, कालयवन का वध, उधव गोपी संवाद, ऊधव द्वारा गोपियों को अपना गुरु बनाना, द्वारका की स्थापना एवं रुक्मणी विवाह के प्रसंग का संगीतमय भावपूर्ण पाठ किया गया। कथा के दौरान पंडित नरेश शास्त्री ने कहा कि महारास में भगवान श्रीकृष्ण ने बांसुरी बजाकर गोपियों का आह्वान किया और महारास लीला के द्वारा ही जीवात्मा परमात्मा का ही मिलन हुआ। जीव और ब्रह्म के मिलने को ही महारास कहते है। इस अवसर पर बड़ी संख्या में ग्रामवासी एवं क्षेत्रवासियों उपस्थित रहे आज कथा का समापन विशाल भंडारे के साथ होगा।

 2,797 Total Views

WhatsApp
Facebook
Twitter
LinkedIn
Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Rajgarh Khulasa M.P:- पानी के लिए दिल्ली जैसे हालात पैदा होने की बनी स्थिति, जिले में एक नही बल्कि दो राज्य मंत्री फिर भी ग्रामीण क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं 

ग्राम पंचायत सरेडी में पानी की किल्लत से ग्रामीण परेशान  दिल्ली जैसे

 15,327 Total Views

Search