Sunday, 3 September, 2023

Rajgarh Khulasa M.P.- 161- ब्यावरा विधानसभा के मतदाता रुझान देखिए एक नज़र में।

2023 विधानसभा 161, टिकिट एक-एक उम्मीदवार कांग्रेस में 3 , भाजपा में ज्यादा

161- ब्यावरा विधानसभा के मतदाता रुझान देखिए एक नज़र में।

1990 और 2020 में अपने निर्णय से टिकिट विशेषज्ञ को चोकाया यहाँ के मतदाताओं ने

कांग्रेस में जहां तीन में से एक दांगी निश्चित है तो वही भाजपा मे टिकिट की लम्बी कतार लगी हुई ?

ब्यावरा।। एमपी में विधानसभा चुनावों की आहट से राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है।

लगभग दो लाख चालीस हजार मतदाताओ वाली एमपी के राजगढ़ जिले की 161-ब्यावरा विधानसभा की बात करे तो यहां कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दल में उम्मीदवारों की भरमार है। और दोनो ही दल में उम्मीदवारों के अपने अपने गुट है, जिन्होंने अपने अपने उम्मीदवार के लिए कैम्पेन चालू कर दिये है।
जो कार्यकर्ता यदा कदा देखे जाते थे वे भी अपने दावेदार के लिए पूर्ण रूप से सक्रिय भूमिका में नजर आ रहे है।

बात करे ब्यावरा विधानसभा के इतिहास की तो वो इस प्रकार

पूर्व से ब्‍यावरा विधानसभा के मतदाताओ की समझ की तो 1990 और 2020 को छोड़कर दोनो ही दलो को बारी बारी से समान अवसर दिये है।इस क्रम को देखे तो मौजूदा स्थिति मे भाजपा का पलङा भारी है।

ब्‍यावरा विधानसभा के मतदाताओ ने अधिकांश समय गुमनाम की ताजपोशी की है।अगर विगत 50 वर्ष के आंकङो पर गोर करे तो यहाँ का मतदाता कमजोर प्रत्याशी के साथ गया है। इससे स्पष्ट है की यहां की जनता भावनात्मक है। जो सुकुन से शांतिपूर्ण जीवन यापन में विश्वास रखती है

बात् की जाये सन् 1977 और 1980 की तो डीएम जगताप लगातार दो बार जीते थे ।

वही 1984 से 1989 तक डवल इंजन कांग्रेस सहित भाजपा की राम लहर को नकारकर ब्‍यावरा के मतदाताओ ने सात हजार से अधिक मतो से निर्दलीय डी एम जगताप की ताजपोशी कर दी थी।
हांलाकि डी एम जगताप अपनी भाषाशेली और ग्रामीण क्षेत्र में आम मतदाता के बीच अपने व्यवहार की वजह से खासे लोकप्रिय थे।

मतदाताओ ने 2020 मे फिर चोकाया, जब सत्ता के रथ पर सवार भाजपा को उप चुनाव मे 12 हजार से अधिक मतो से हरा दिया।(यह सीट विधायक गोवर्धन के म्रत्यु के कारण खाली हुई थी)

2023 के चुनाव के लिए गुटबाजी दोनो दलो मे साफ दिख रही है। जहां एक और सुस्त और निर्जीव पड़ी कांग्रेस में स्व गोवर्धन दांगी के पुत्र डां विश्वनाथ दांगी दिग्गीराजा के चहेते है। वही वर्तमान विधायक रामचंद्र दांगी और पूर्व विधायक पुरूषोत्तम दांगी दोनो ही छेत्र मे सक्रीय है।इनके पास कार्यकर्ता टीम भी है।

गुटबाजी का असर कांग्रेस में कम रहेगा क्योकी उम्मीदवार तीनो एक ही समाज से है।

वही बात भाजपा की करें तो सत्तापक्ष होने की वजह से दावेदारों की सूची लंबी है। पूर्व विधायक नारायण सिंह पंवार और पूर्व राज्य मंत्री बद्रीलाल यादव को क्षेत्र का लम्बा अनुभव है। दोनो ने चार बार विधानसभा लङी है। यादव दो बार जीते है और दो बार हार का सामना करना पड़ा है, वही पंवार को एक बार जीत मिली और तीन बार हार का सामना करना पडा है। इन दोनो के अलावा जिला उपाध्यक्ष जसवंत गूजर, पूर्व जिला अध्यक्ष दिलवर यादव भी सक्रिय है। जसवंत सिंह गुर्जर के पिता बलराम सिंह गुर्जर पूर्व मे विधायक थे।उनका परिवार जिला पंचायत, जनपद पंचायत मे भी सक्रिय रहा है गुटबाजी से भी दूर है।

पूर्व जिला अध्यक्ष दिलवर यादव की पारिवारिक पृष्ठभूमि भी राजनीतिक रही है।

दावेदारी की लिस्ट मे रामनारायण दांगी के अलावा लोधी-लोधा समाज सहित सामान्य वर्ग से भी उम्मीदवार टिकिट की दौड़ में है।
ऐसे मे भाजपा के लिये सभी को एकजुट कर चुनाव मे जाने की कठिन चुनौती है।
अगर मतदाताओ का रूझान देखे तो वो खामोश है। एक और भाजपा सत्ता की मलाई मे व्यस्त है तो दूसरी ओर कांग्रेस के भी सभी वचन को गोर से सुन रहा है। मतदाता अभी अपने पत्ते खोलने के मूड में नजर नहीं आ रहा है, वह एनवक्त पर किस पार्टी पर मेहरबान होगा यह भविष्य के गर्त में छुपा है।

*मतदाता*-161ब्यावरा विधानसभा मे 2 लाख 40 हजार के लगभग मतदाता है। 13 सितम्बर के बाद नई सूची होगी जारी उससे पता चल पायेगा टोटल कितने मतदाता है

जीत
1977 डी एम जगताप – JNP. वोट 21,313

हार
1977 रामकरण उग्र – INC . वोट 6,399

जीत
1980 डीएम जगताप – BJP . वोट 17,206

हार
1980 छगत सिंह पियार सिंह NIC (१). वोट 11,471

जीत
1985 जगेश्वर साहू – INC . वोट 24,253

हार
1985 दुखित राम साहू – CPI. वोट 6,837

जीत
1990 डी एम जगताप – IND. वोट 21,082

हार
1990 नारायण सिंह – BJP . वोट 13,862

जीत
1993 बद्रीलाल यादव – BJP . वोट 26,464

हार
1993 कुसुम कांत , INC. वोट 21,554

जीत
1998 ताम्रध्वज साहू – INC . वोट 39,538

हार
1998 लेबचंद बाफ़ना – BJP. वोट 33,971

जीत
2003 बद्रीलाल यादव -BJP .वोट 49,028

हार
2003 रामचंद्र दांगी – INC, 44,109

जीत
2008 पुरूषोत्तम दांगी – INC , वोट 51,950

हार
2008 बद्रीलाल यादव – BJP, वोट 38,506

जीत
2013 नारायण सिंह पंवार – BJP, वोट 75,766

हार
2013 राम चंद्र दांगी – INC, वोट 72,678

जीत
2018 गोवर्धन दांगी – INC , वोट 75,569

हार
2018 नारायण सिंह पंवार – BJP, वोट 74,743

जीत
2020 रामचंद्र दांगी – INC , वोट 95,397

हार
2020 नारायण सिंह पंवार – BJP, वोट 83,295

2023 ? मे देखना होगा किस की होगी जीत,किसको मिलेगा टिकिट

 

कांग्रेस से उम्मीदवारों के नाम

१ रामचंद्र दांगी

२ पुरुषोत्तम दांगी

३ विश्वनाथ दांगी

भाजपा से उम्मीदवारों के नाम

१ नारायण सिंह पंवार

२ बद्रीलाल यादव

३ दिलवर यादव

४ जसवंत सिंह गुर्जर

५ रामनारायण दांगी

६ इंदर सिंह लोधा ( लववंशी)

 4,790 Total Views

WhatsApp
Facebook
Twitter
LinkedIn
Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

UVESH REPORTAR RAISEN//अखिल भारतीय विधार्थी परिषद इकाई-सिलवानी द्वारा मनाई गई छ्त्रपति शिवाजी महाराज की जयंती।

//उवेश रिपोर्टर// अखिल भारतीय विधार्थी परिषद इकाई-सिलवानी द्वारा मनाई गई छ्त्रपति शिवाजी

 7,289 Total Views

Search