Thursday, 13 April, 2023

MP SILWANI KHULASA// छात्र आक्रोशित तहसीलदार छोटेगिरी गोस्वामी को सौपा ज्ञापन,

*शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य खरबार अंगद जैसे जमे हुए : छात्र आक्रोशित सौपा ज्ञापन*

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के तत्वावधान में छात्रो ने गुरुवार को प्राचार्य के खिलाफ नारेबाजी कर अपर मुख्य सचिव, आयुक्त, उच्च शिक्षा, अतिरिक्त संचालक, क्षेत्रीय कार्यालय भोपाल, उच्च शिक्षा मंत्री, प्रभारी मंत्री एबं कलेक्टर के नाम

तहसीलदार छोटेगिरी गोस्वामी को ज्ञापन सौपा। प्राचार्य को निलंबित करने एबं महाविद्यालय में विषय बढ़ाने को लेकर ज्ञापन सौपते समय छात्र काफी आक्रोशित नजर आए। ज्ञापन में विदित है कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद लगातार छात्रहित एवं राष्ट्रहित के कार्य करता चला आ रहा है शासकीय महाविद्यालय सिलवानी प्रभारी प्राचार्य डॉ. भगवानदास खरबार महाविद्यालय में असमय उपस्थित रहते है एबं उनके द्वारा लगातार अनियमितताए बढ़ती जा रही है। प्रभारी प्राचार्य सन 1994 से वर्तमान महाविद्यालय में भूगोल विषय के सह प्राध्यापक के पद पर पदस्थ है। शासकीय जानकारी अनुसार सन 2010 से प्रभारी प्राचार्य के रूप में पदस्थ है प्रभारी प्राचार्य डॉ. भगवानदास खरबार का समय पर उपस्थित न होने के कारण विद्यार्थियो को पढ़ाई से वंचित रहना पड़ता है जिससे उनका भविष्य अंधकारमय हो जाता है एबं महाविद्यालय में लगातार अनियमितताए बढ़ती चली जा रही है। अनेकों बार विद्यार्थी परिषद एबं सामान्य छात्रों द्वारा कई ज्ञापनों के माध्यम से स्थानीय प्रशासन एबं जिला प्रशासन को प्रभारी प्राचार्य के अनियमितताओ के बारे में अवगत कराया जा चुका है एबं प्रशासन द्वारा 2 बार पंचनामा बनाया गया (जिसकी छायाचित्र ज्ञापन के साथ संलग्न है) परंतु आज समय तक उन पर कोई कार्यवाही नही की गई जिससे उनके अनियमितताओ के हौसले बढ़ते चले जा रहे है। महाविद्यालय प्राचार्य भोपाल से सिलवानी महीने में दो बार आते है। प्राचार्य की लापरवाही के कारण महाविद्यालय सहायक प्रोफेसर डॉ. मनोहर लाल कोरी एबं अतिथि विद्वान रामानुज रघुवंशी अपनी मनमर्ज़ी से आते है एबं थंब(अंगूठा) लगाकर बापस चले जाते है एबं छात्र-छात्राओं को धमकाया जाता है कि हमारे खिलाफ विरोध किया तो आपका रिजल्ट खराब कर दिया जाएगा। बिना अनुमति के महाविद्यालय की शासकीय भूमि पर शादी समारोह एबं अन्य कार्यक्रम भी आयोजित करवाए जाते है जिसके वीडियो साक्ष्य भी उपलब्ध है। प्रभारी प्राचार्य एबं स्टाफ शिक्षक द्वारा अनेको अनियमितता की जा रही है।

 

2. तहसील सिलवानी के अंतर्गत 254 गाँव आते है जिसमे तहसील स्तर पर एकमात्र शासकीय महाविद्यालय सिलवानी में स्थित है। कक्षा बारहवीं के गणित एबं विज्ञान, कंप्यूटर संकाय के छात्रों की संख्या 2500 से अधिक है सिलवानी शासकीय महाविद्यालय में बी.एस. सी. विषय न होने के कारण इसमे से लगभग पचास प्रतिशत छात्र अपनी आगे की पढ़ाई से बंचित रह जाते है जिसमे छात्राओं की संख्या अधिक है वह अपनी आगे की पढ़ाई के लिए तहसील से बाहर नही जा पाती एबं जिन छात्रों की आर्थिक स्थिति ठीक नही रहती वह छात्र भी आगे की पढ़ाई से वंचित हो जाते है और उनका भविष्य अंधकारमय हो जाता है कई ज्ञापनों के माध्यम से करीब आठ बर्षो से बीएससी एबं पी.जी. विषयों की माँग जिला प्रशासन के माध्यम से छात्रों, पालक, नागरिकों एबं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा की जा रही है परंतु आज समय तक कोई भी प्रतिक्रिया नही की गई।

 

*यह दो प्रमुख माँग है*

*उनत्तीस बर्षो से पदस्थ है प्राचार्य*

1. प्रभारी प्राचार्य डॉ. भगवानदास खरबार को तुरंत निलंबित कर हटाया जाए और नवीन प्राचार्य की पदस्थापना की जाए एबं सहायक प्रोफेसर मनोहर लाल कोरी एबं अतिथि विद्वान रामानुज रघुवंशी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जावे जिससे वह छात्रो को धमकाने का प्रयास न कर सके।

 

*कई वर्षो से बिषय को लेकर मांग*

2. इस नवीन सत्र 2023-24 से बी.एस.सी. बिषय एबं पी.जी. बिषयों को शासकीय रूप से शुरू किये जाए एबं बढ़ाये जाए जिससे छात्रों का भविष्य अंधकारमय न हो सकें और वह उच्च शिक्षा प्राप्त कर सके।

 

*पाँच दिवस का अल्टीमेट*

यदि हमारी यह दो प्रमुख माँग पाँच दिवस के अंदर नही मानी जाती तो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद आंदोलन, तालाबंदी एबं धरना प्रदर्शन करेगी जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी शासन एबं प्रशासन की रहेगी।

 1,497 Total Views

WhatsApp
Facebook
Twitter
LinkedIn
Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Rajgarh Khulasa M.P:- पानी के लिए दिल्ली जैसे हालात पैदा होने की बनी स्थिति, जिले में एक नही बल्कि दो राज्य मंत्री फिर भी ग्रामीण क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं 

ग्राम पंचायत सरेडी में पानी की किल्लत से ग्रामीण परेशान  दिल्ली जैसे

 15,353 Total Views

Search