Thursday, 12 January, 2023

Khulasa Rajgarh M.P.-अन्नपूर्णा महिला मंडल द्वारा जरूरतमंद लोगों को बाटे कंबल

अन्नपूर्णा महिला मंडल द्वारा जरूरतमंद लोगों को बाटे कंबल , निरंतर समाज सेवा में अग्रणी भूमिका निभा रही है महिला मंडल की सदस्य

राजगढ़।। मूक पक्षियों को दाना डालने का कार्य हो या मरीजों को फल वितरण अथवा शहर के गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को कंबल वितरण करने आदि का समाजसेवी कार्य हो सभी को करने का कार्य अन्नपूर्णा महिला मंडल नरसिंहगढ़ की महिला सदस्यों द्वारा तन्मयता से किया जा रहा है। नगर में इन समाजसेवी महिलाओं द्वारा 2013 से निरंतर समाज सेवा का उल्लेखनीय कार्य नगर की समाज सेविका श्रीमती रेखा मीणा के नेतृत्व में किया जा रहा है, जिनको महिला मंडल के सदस्यों का भरपूर सहयोग रहता है। वे जरूरतमंद लोगों को आवश्यकता के अनुरूप सहायता उपलब्ध करवाती है। इस बारे में भाजपा महिला मोर्चा की जिला कोषाध्यक्ष एवं समाज सेविका श्रीमती रेखा मीणा ने बताया कि अन्नपूर्णा महिला मंडल नरसिंहगढ़ की सभी महिला सदस्यों द्वारा तन, मन, धन से जरूरतमंद लोगों के सेवा का कार्य वर्षों से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि महिला मंडल की सदस्य संतोष गोस्वामी, सरस्वती सिस्टर, गायत्री दांगी, सीमा वैष्णव, शारदा व्यास, मधु शर्मा, कृष्णा कंवर, रमा लघुवंशी, लीला वर्मा, नेहा दीदी भोपाल, आरती गुप्ता, रेखा सक्सेना, बबली मीणा काकरिया देव, मोना जी, दीपा गुप्ता, रमा नागर, माया गुप्ता, उमा सक्सेना आदि अन्य समाजसेवी महिलाओं ने गरीब, मजबूर और मजदूरों की सहायता करने के लिए कार्य कर रही है। ठंड के इस प्रकोप से जरूरतमंद लोगों को राहत मिल सके, इसके लिए सभी महिलाओं ने झुग्गी, झोपड़ी, बस स्टैंड पर गुजारा करने वाले लोगो सहित गरीबों के घर घर जाकर कंबल का वितरण किया गया। इसके अलावा महिला मंडल के सदस्य द्वारा समय समय पर अस्पताल जाकर मरीजो को फल, बिस्किट सहित अन्य जरूरत की चीजें वितरण का कार्य पिछले कई सालों से किया जा रहा है।


पशु पक्षियों की सेवा में भी लगी है महिलाए


समाज सेविका श्रीमती मीणा ने बताया कि गरीब, मजदूर और मजबूर लोगों को सहायतार्थ सहयोग करने के अलावा पशु पक्षियों की सेवा में भी महिला मंडल लगा हुआ है। नगर की पहाड़ियों पर आने वाले पक्षियों को दाना डालने का कार्य भी महिला मंडल कर रहा है, वही गोवंश को बचाने के लिए भी महिला मंडल का प्रयास निरंतर जारी है। गोवंश में लंपी रोग के दौरान भी महिला मंडल ने गोवंश की सेवा की है। गर्मी के मौसम में पक्षियों के लिए सकोरा रखने का कार्य भी महिला मंडल करता है।

 503 Total Views

WhatsApp
Facebook
Twitter
LinkedIn
Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Search