Khulasa Rajgarh M.P.:-प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 आवेदन प्राप्त करने एवं ई.के.वाई.सी. कराने गैस ऐजेन्सियों पंचायतों में 1 से 4 तक लगाए केम्प – कलेक्टर

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ब्यूरो रिपोर्ट भोपाल – केमरामेन विमल कुमार शर्मा के साथ भोपाल संभाग प्रमुख कृष्णमोहन लववंशी , संपर्क करें 7879222104

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 आवेदन प्राप्त करने एवं ई.के.वाई.सी. कराने गैस ऐजेन्सियों पंचायतों में 1 से 4 तक लगाए केम्प – कलेक्टर


जिले में 7 को आयोजित कार्यक्रम में 42,000 हितग्राहियों को किया जाएगा लाभंवित

गैस डीलर प्रतिनियों के साथ आयोजित बैठक में
कलेक्टर ने दिए व्यापक दिशा निर्देश


प्रधानमंत्री उज्जवल योजना 2.0 07 सितम्बर, 2021 को पूरे प्रदेश में समारोह पूर्वक लॉन्च की जाना प्रस्तावित है। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उपस्थित रहेगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वर्चुअली जुडने की संभावना है। कार्यक्रम का प्रसारण पूरे राज्य में किया जाएगा। 07 सितम्बर से पूर्व प्रदेष में 6 लाख हितग्राहियों के के.वाय.सी. क्लियर कर ई-के.वाय.सी. उपरांत गैस कनेक्षन जारी किये जायेंगे। इन उपभोक्ताओं को समारोह के दौरान एवं उसके उपरांत गैस कनेक्षन प्रदाय किये जाएंगे।


इस हेतु आयोजित बैठक में कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने जिले के समस्त अनुविभागीय अधिकारियों राजस्व को निर्देशित किया है कि वे मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों एवं क्षेत्रीय गैस डीलरों, सार्वजनिक वितरण प्रणाली के सेल्समेंन एवं कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित करें। ग्रामीण अंचलों में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 के क्रियान्वयन के गैस डीलर पंचायत स्तर शिविर लगाएं, आवेदन प्राप्त करें एवं ई.के.वाय.सी.। इस हेतु पंचायत सचिव अपने पंचायत क्षेत्र में गैस डीलरों का सहयोग करें।
उन्होंने निर्देशित किया कि जिले में प्रधानमंत्री उज्जवल योजना 2.0 अंतर्गत 7 सितम्बर, 2021 को आयोजित कार्यक्रम में 42,000 हितग्राहियों को गैस कनेक्षन दिए जाने का लक्ष्य है। इस हेतु आवेदन प्राप्त करने, बायोमेट्रिक पहचान करने, ई.के.वाय.सी. तथा कम्प्यूटर में अपलोड करने का कार्य गैस एजेन्सियां पंचायतों में ही पहुंच करेगी। उक्त कार्य हर हालात में 4 सितम्बर, 2021 तक पूर्ण हो सभी सुनिष्चित करें।

आयोजित बैठक में उन्होंने कहा कि जिले में वितरकों के पास पूर्व से जमा के.वाय.सी. एवं नवीन आवेदनों की सत्त रूप से समीक्षा कर प्रत्येक आवेदनकर्ता परिवार से आवष्यक दस्तावेज जमा कराए जाएं। वितरक के स्तर में के.वाय.सी. क्लियर की जाएगी।के.वाय.सी. क्लियर होने के उपरांत वितरक के स्तर से ही आवेदनकर्ता से बायोमेट्रिक सत्यापन अथवा ओ.टी.पी. के माध्यम से ई- के.वाय.सी. कराई जाएगी। इस हेतु समस्त वितरकों के पास बायोमैट्रिक डिवाइस उपलब्ध है। ओ.टी.पी. के माध्यम से ई- के.वाय.सी. किये जाने हेतु आवेदनकर्ता के आधार नम्बर में उसका सही मोबाईल नंबर दर्ज होना आवष्यक है। आधार नंबर में सही मोबाईल नंबर का अपडेशन आधार की वेबसाईट नपकंपण्हवअण्पद पर किया जा सकता है अथवा आधार सेन्टर, कॉमन सेन्टर सी.एस.सी., एम.पी.ऑनलाईन कियोस्क आदि के माध्यम से कराया जा सकता है।
आवेदनकर्ता हितग्राहियों के ई- के.वाय.सी. कराने हेतु ग्राम पंचायत वार्ड स्तर पर आवष्यक सहयोग करने हेतु नगरीय निकाय, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, राजस्व एवं खाद्य विभाग के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जाए। स्थानीय उचित मूल्य दुकान के विक्रेताओं को उपरोक्त कार्य हेतु संयोजित किया जाए।

Advertisement / विज्ञापन


जिला स्तर पर पदस्थ कंपनी के नोडल अधिकारी एवं जिला आपूर्ति नियंत्रक अधिकारी यह सुनिष्चित करेगे कि हितग्राहियों को गैस कनेक्षन प्रदाय करने हेतु पर्याप्त मात्रा में एसेसरीज (गैस सिलेण्डर, गैस चूल्हा, रेग्यूलेटर, सुरक्षा पाईप आदि) उपलब्ध हो।
जिला स्तर पर पदस्थ कंपनी के नोडल अधिकारी योजना के संबंध में पात्रता, आवष्यक दस्तावेज, आवेदन कहा जमा करना है की जानकारी के संबंध में एक पेम्पलेट तैयार कर पर्याप्त संख्या में जिला आपूर्ति नियंत्रक अधिकारी को उपलब्ध कराएगे। जिला आपूर्ति नियंत्रक अधिकारी प्रत्येक उचित मूल्य की दुकान पर ऐसे पेम्पलेंट प्रदर्शित कराएगे।

 218 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!