प्रदेश होशंगाबाद तहसील बनखेड़ी बगैर शौचालय निर्माण के कैसे हुई ग्राम पंचायतें, खुले में शौच मुक्त खुलासा न्यूज पिपरियासंवाददाता दीपेश पटेल की रिपोर्ट

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बगैर शौचालय निर्माण के कैसे हुई ग्राम पंचायतें, खुले में शौच मुक्त घोषित

Advertisement / विज्ञापन

बनखेड़ी। सरकार द्वारा लगातार ग्रामों के विकास के लिए नई नई योजनाएं चलाई जा रही हैं, लेकिन धरातल पर सिर्फ खानापूर्ति के तौर पर कागजों में इन योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुंच रहा है बाकी धरातल पर कुछ और ही बयां करती दिखाई दे रही हैं। बनखेड़ी विकासखंड की कई ग्राम पंचायतों में अभी तक अनेक घरों में शौचालय का निर्माण हुआ ही नहीं, लेकिन कागजों में खानापूर्ति के तौर पर सभी पंचायतें खुले में शौच मुक्त घोषित हो चुकी हैं। सवाल यह खड़ा होता है? कि ग्राम पंचायतों में अभी तक अनेक घरों में शौचालय निर्माण हुए ही नहीं फिर कैसे यह पंचायत में खुले में शौच मुक्त घोषित हो गई, आखिर किसके संरक्षण में यह भ्रष्टाचार मचा हुआ है। अधिकारियों की उदासीनता एवं सतत मॉनिटरिंग ना होने के चलते न ही ग्राम पंचायतों की कोई जांच होती है और ना ही इन ग्राम पंचायतों के सचिव एवं सरपंच पर कोई कार्यवाही। देखा जाए तो बनखेड़ी जनपद पंचायत के अंतर्गत कई ग्राम पंचायतें ऐसी हैं, जहां अनेक घरों में शौचालय का निर्माण नहीं हुआ और आवास योजनाओं से भी अनेक घर वंचित हैं वही ब्लॉक की कई पंचायतों में कीचड़ गंदगी का अंबार लगा हुआ है, कई बार समाचार पत्रों के माध्यम से इन पंचायतों के भ्रष्टाचार उजागर हुए लेकिन विशेष संरक्षण के चलते कार्यवाही से पंचायत में बचती हैं बनखेड़ी जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली अनेक पंचायतें इनमें शामिल है। वही पंचायतों में फर्जी बिलों से कई जगह भुगतान किया गया है जिनकी यदि जांच की जाए तो कई पंचायतों पर कार्यवाही निश्चित है लेकिन कार्रवाई करेगा कौन? यह सबसे बड़ा सवाल खड़ा होता है । क्योंकि कई दिनों से यह पंचायतों में भ्रष्टाचार लगातार जारी है लेकिन अभी तक कोई भी अधिकारी इन पंचायतों में कार्यवाही नहीं कर पाया आखिर किसके संरक्षण में यह भ्रष्टाचार जारी है।बगैर शौचालय निर्माण के कैसे हुई ग्राम पंचायतें, खुले में शौच मुक्त घोषित बनखेड़ी। सरकार द्वारा लगातार ग्रामों के विकास के लिए नई नई योजनाएं चलाई जा रही हैं, लेकिन धरातल पर सिर्फ खानापूर्ति के तौर पर कागजों में इन योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुंच रहा है बाकी धरातल पर कुछ और ही बयां करती दिखाई दे रही हैं। बनखेड़ी विकासखंड की कई ग्राम पंचायतों में अभी तक अनेक घरों में शौचालय का निर्माण हुआ ही नहीं, लेकिन कागजों में खानापूर्ति के तौर पर सभी पंचायतें खुले में शौच मुक्त घोषित हो चुकी हैं। सवाल यह खड़ा होता है? कि ग्राम पंचायतों में अभी तक अनेक घरों में शौचालय निर्माण हुए ही नहीं फिर कैसे यह पंचायत में खुले में शौच मुक्त घोषित हो गई, आखिर किसके संरक्षण में यह भ्रष्टाचार मचा हुआ है। अधिकारियों की उदासीनता एवं सतत मॉनिटरिंग ना होने के चलते न ही ग्राम पंचायतों की कोई जांच होती है और ना ही इन ग्राम पंचायतों के सचिव एवं सरपंच पर कोई कार्यवाही। देखा जाए तो बनखेड़ी जनपद पंचायत के अंतर्गत कई ग्राम पंचायतें ऐसी हैं, जहां अनेक घरों में शौचालय का निर्माण नहीं हुआ और आवास योजनाओं से भी अनेक घर वंचित हैं वही ब्लॉक की कई पंचायतों में कीचड़ गंदगी का अंबार लगा हुआ है, कई बार समाचार पत्रों के माध्यम से इन पंचायतों के भ्रष्टाचार उजागर हुए लेकिन विशेष संरक्षण के चलते कार्यवाही से पंचायत में बचती हैं बनखेड़ी जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली अनेक पंचायतें इनमें शामिल है। वही पंचायतों में फर्जी बिलों से कई जगह भुगतान किया गया है जिनकी यदि जांच की जाए तो कई पंचायतों पर कार्यवाही निश्चित है लेकिन कार्रवाई करेगा कौन? यह सबसे बड़ा सवाल खड़ा होता है । क्योंकि कई दिनों से यह पंचायतों में भ्रष्टाचार लगातार जारी है लेकिन अभी तक कोई भी अधिकारी इन पंचायतों में कार्यवाही नहीं कर पाया आखिर किसके संरक्षण में यह भ्रष्टाचार जारी है।

बगैर शौचालय निर्माण के कैसे हुई ग्राम पंचायतें, खुले में शौच मुक्तबगैर शौचालय निर्माण के कैसे हुई ग्राम पंचायतें, खुले में शौच मुक्त

 58 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!
WhatsApp chat