Indore MP Khulasa//राधास्वामी सत्संग ब्यास अब कोविड केयर सेंटर:गत्ते से बने यूज एंड थ्रो बेड पर साेएंगे कोरोना मरीज, ठीक होने पर बेड को पूरी तरह से खोलने के साथ ही नष्ट भी किया जा सकता है!

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
राधास्वामी सत्संग ब्यास में कोरोना मरीजों के लिए इस प्रकार से गत्ते से बने बेड लगाए जा रहे हैं।

2 हजार बेड की व्यवस्था का करने का टारगेट, पहले चरण में 500 बेड लग रहे

प्रशासन ने राधास्वामी सत्संग ब्यास को भी कोविड केयर सेंटर बनाने का काम शुरू कर दिया। कोविड मरीजों के इलाज के लिए यहां पर व्यवस्थाओं को जुटाए जाने का काम जोरों पर है। बुधवार को यहां पर पेशेंट के लिए बेड लगाने का काम शुरू हो गया। खास बात यह है कि यहां पर जो बेड लगाए जा रहे हैं वे गत्ते के हैं। जरूरत पड़ने पर इन्हें खोलकर पूरी तरह से अलग किया जा सकता है। या फिर नष्ट भी किया जा सकता है। पहले चरण में यहां पर 500 बेड लगाए जा रहे हैं। जिसे धीरे-धीरे बढ़ाकर 2000 करने का टारगेट है। यहां पर वे मरीज रहेंगे, जिन्हें किसी कारणवश होम आइसोलेशन में परेशानी आ रही है।

निगम-प्रशासन की टीम बेड लगाने के साथ ही अन्य तैयारियों को अंतिम रूप देने में लगी है

आईडीए सीईओ विवेक श्रोत्रिय को राधास्वामी परिसर में 2 हजार बेड की व्यवस्थाएं जुटाने का काम सौंपा गया है। सीईओ ने बताया मंगलवार से कान्ट्रेक्टर को बुलाकर काम शुरू करवा दिया गया है। यहां इतना बड़ा शेड है कि एक लाख से ज्यादा लोग बैठते हैं। यहां आसानी से 5 हजार बेड की व्यवस्थाएं की जा सकती हैं। प्रारंभिक तौर पर यहां अभी 2 हजार बेड की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। यहां लोगों को गर्मी से बचाने के लिए कूलर के साथ ही सारी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। देश के किसी भी शहर में एक ही स्थान पर इतने मरीजों को व्यवस्थाएं देने की यह सबसे बड़ी पहल होगी। इससे सभी मरीजों की एकसाथ देखभाल करने में भी आसानी होगी। यहां की मेडिकल संबंधी व्यवस्थाओं के लिए विशेषज्ञों की टीम तैनात रहेगी। दूसरी तरफ धार पर बनाए गए दत्तात्रेय कॉलेज कोविड केयर सेंटर में भी व्यवस्थाएं पूरी हो गई हैं। वहां 100 मरीजों को ठहरने की व्यवस्था की गई है।

Advertisement / विज्ञापन

इसलिए पड़ी कोविड केयर सेंटर बनाने की जरूरत
इंदौर में काेराेना का कहर जारी है। लगातार दूसरे दिन 1500 से ज्यादा मरीज सामने आए हैं। देर रात 1611 नए केस के साथ 6 मरीजों की मौत भी हुई। सबसे बड़ा विस्फोट सुदामा नगर में हुआ। यहां 35 नए संक्रमित मिले हैं। एक्टिव मरीज 9275 हो चुके हैं, जबकि कुल मरीज 82,597 हैं। पॉजिटिव दर 20.7% है। हालात यह हैं कि सभी बड़े अस्पतालों में बेड फुल हो चुके हैं।

 42 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!
WhatsApp chat