Bhopal MP Khulasa// हादसे रोकने के लिए रेड सिग्नल बना झंडा ,,चूना भट्‌टी में 1 ही दिन में 6 लोग गिरे, एक को एंबुलेंस में ले जाना पड़ा; लगा दिए झंडे!

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
सिग्नल का रूप दिया झंडे को ? झंडा किस का केसा कहा किस स्थिति में लगा ये ध्यान रखना उचित रहता

भोपाल की खूबसूरती पर दाग लगा रही सड़कें अब हादसों की बड़ी वजह बन रही है। कोलार, होशंगाबाद रोड और पुराने शहर के हमीदिया रोड, भारत टॉकीज के सामने हर रोज लोग गिरकर जख्मी हो रहे हैं। चूना भट्‌टी में 1 ही दिन में 6 लोग गिर गए। इनमें से एक को सिर में गंभीर चोंट आई और एंबुलेंस में हॉस्पिटल ले जाना पड़ा। गुस्साएं लोगों ने रास्ते में ही ‘रेड सिग्नल’ के रूप में झंडे लगा दिए। ताकि दूसरे हादसे का शिकार न हो सके और जिम्मेदार सड़कों की सुध ले लें।

कोलार गेस्ट हाउस से बैरागढ़ चिचली तक करीब 10 किलोमीटर सड़क पूरी तरह से उखड़ी हुई है। सीवेज और पानी की पाइप लाइन बिछाने के बाद सड़कें बदहाल हो गई हैं। 20 अगस्त को CM शिवराज सिंह चौहान की नाराजगी के बाद PWD और नगर निगम ने गिट्टी और मिट्टी तो भर दी थी, लेकिन 2-3 दिन के भीतर ही सड़कों की हालत पहले जैसी ही हो गई है। कोलार गेस्ट हाउस-चूना भट्‌टी चौराहे के बीच सीआई कॉलोनी के पास सड़क इतनी जर्जर है कि बाइक या ऑटो में बैठे लोग गिरकर जख्मी हो रहे हैं। रविवार को ऑटो में बैठकर जा रहे एक बुजुर्ग गिर गए। उन्हें एंबुलेंस में जेपी हॉस्पिटल ले जाना पड़ा।

‘रोज 8 से 10 लोग गिरते हैं’

दुकान संचालक पंकज यादव ने बताया कि रविवार को ऑटो में बैठकर जा रहे एक अंकल गिर गए थे। चोट लगने से उन्हें एंबुलेंस में हॉस्पिटल लेकर गए थे। रात में एक महिला बाइक से गिर गई। उन्हें भी चोंट लगी। एक ही दिन में 6 लोग गिरे थे। रोज 8 से 10 लोग गिरते हैं। इसलिए रात में लाल रंग के झंडे लगा दिए हैं। ताकि इन्हें देखकर गाड़ियों की स्पीड कम हो जाए और कोई घायल न हो। राजेश मेहरा का कहना है कि एक सप्ताह से सड़क की हालत काफी जर्जर हो गई है। इस कारण बाइक और ऑटो से लोग गिर रहे हैं।

सिग्नल के रूप में झंडे लगाने के बाद गाड़ियां दूर से गुजर रही है

गड्‌ढों में ‘रैम्प वॉक’ कर चुकी महिलाएं

बारिश के कारण राजधानी की 50% सड़कें जर्जर हो चुकी हैं। कोलार, होशंगाबाद रोड, रायसेन रोड, पुराने शहर, करोंद, अवधपुरी के मुख्य सड़कें तो जर्जर है ही, कॉलोनियां की सड़कें भी चलने लायक नहीं बची है। इसके चलते शनिवार को होशंगाबाद रोड स्थित दानिश नगर कॉलोनी की महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों ने अनोखे तरीके से प्रदर्शन किया था। उन्होंने ‘ऐ भाई जरा देख के चलो’… गाने पर एक घंटे तक गड्‌ढों में रैम्प वॉक किया था।

खराब सड़कों से परेशान दानिश नगर कॉलोनी की महिलाओं ने 4 सितंबर को गड्‌ढों में रैम्प वॉक किया था।

खराब गड्‌ढों की भेंट चढ़ चुका है CPA

Advertisement / विज्ञापन

खराब सड़कों की वजह से ही 61 साल पुराना CPA (राजधानी परियोजना प्रशासन) भेंट चढ़ चुका है। 20 अगस्त को CM शिवराज सिंह चौहान खराब सड़कों को लेकर नाराज हुए थे और उन्होंने CPA को बंद करने की घोषणा की थी। इसके बाद जिम्मेदार एजेंसियों ने सड़कों की सुध ली, लेकिन बेहतर तरीके से मरम्मत न होने के कारण सड़कों की हालत अब पहले से भी ज्यादा बदतर हो गई है।

 21 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!