Bhopal MP Khulasa//नहीं माना नाइट कर्फ्यू:होटल बंद कराने पहुंची पुलिस पर उबलती चाय फेंकी, पथराव भी किया!

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
रात 10:30 बजे शटर बंद कर लोगों को पिलाई जा रही थी चाय।
काजीकैंप में वर्दी पर हमला, तीन घायल
16 आरोपियों पर मामला दर्ज, 9 को किया गिरफ्तार

काजीकैंप में शनिवार रात नाइट कर्फ्यू के दौरान होटल अल मदीना को बंद कराने पहुंची पुलिस पर होटल मालिक और उसके बेटों ने उबलती हुई चाय फेंककर धक्का-मुक्की कर दी। इसके बाद होटल मालिक के परिवार ने पुलिस पर पथराव कर दिया। इस हमले में एक एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। हनुमानगंज थाना प्रभारी महेंद्र सिंह ठाकुर के मुताबिक कोरोना की रोकथाम के लिए शहर में रात 9 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू घोषित है। पुलिस को जानकारी मिली थी कि जहीर खान ने होटल अल मदीना खोल रखी है और वह ग्राहकों को चाय पिला रहा है।

रात 9:30 बजे पुलिस पहुंची और जहीर से होटल बंद करने को कहा तो उसने शटर गिरा दिया। 10.30 बजे पुलिस को फिर सूचना मिली कि जहीर गली का शटर खोलकर ग्राहकों को चाय पिला रहा है। होटल के ऊपर ही जहीर का परिवार भी रहता है।

सूचना मिलते ही एएसआई अरविंद जाट, हवलदार लोकेश जोशी और सिपाही सुजान मीणा दोबारा मौके पर पहुंचे तो शटर खुला था और अंदर 8-10 ग्राहक बैठे हुए थे। एएसआई जाट ने जहीर को होटल बंद करने को बोला तो उसने उन पर कप से चाय फेंककर गाली-गलौच शुरू कर दी। इसके बाद चाय बना रहे जहीर के बेटे शावेज ने उबलती हुई चाय एएसआई जाट पर फेंक दी।

इसमें उनका दाएं हाथ बुरी तरह झुलस गया। जहीर, शावेज, सलमान के साथ ग्राहकों ने पुलिसकर्मियों से धक्कामुक्की करके उन्हें होटल से बाहर करके शटर लगा ली। तभी जहीर के परिवार की महिलाओं ने पहली मंजिल से पुलिस पर पथराव कर दिया।

यहां लोगों को पुलिस के खिलाफ उकसाने का काम करता है अय्यूब

एएसआई जाट ने वायरलेस सेट पर हमले की सूचना दी तो गौतम नगर, टीला जमालपुरा और हनुमानगंज से पुलिस टीम मौके पर पहुंची। जहीर के परिवार की महिलाओं ने पुलिस पार्टी पर भी पथराव किया। तभी होटल में बैठे ग्राहक जहीर की छत से भागने में सफल हो गए।

जहीर, शावेज, सलमान, पड़ोसी अय्यूब काले, सैफ, अदनान, रमजानी, इमरान, मोहम्मद दानिश, समीर, इमरान, साजिद उर्फ पप्पू, कल्लो, शानू, उजमा और नुसरत के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस ने जहीर समेत 9 को गिरफ्तार कर लिया हैैं। पुलिस का कहना है कि मौके पर मौजूद अय्यूब काले के उकसाने पर ही आरोपियों ने हमला किया था।

काजीकैंप इलाके में पहले भी पुलिस पर कर चुके हैं हमले

तीन-चार साल पहले सब इंस्पेक्टर प्रवीण ठाकरे पर भी काजीकैंप में चाय फेंकी गई थी। एक सब इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह भदौरिया पर भी कुछ समय पहले आरोपियों ने पत्थर फेंका था। काजीकैंप में डायल-100 का कांच भी फाेड़ा जा चुका है।

पुलिस पर लगाया मारपीट का आरोप

Advertisement / विज्ञापन

जहीर के परिवार की महिलाओं ने पुलिस पर उनके साथ मारपीट और घर में तोड़फोड़ का आरोप लगाया है। उनका आरोप है कि पुलिस ने नौ साल की बच्ची की बेरहमी से पिटाई की। महिलाओं के हाथ, पैर और गले में चोट आईं हैं। पुलिस का कहना है कि महिलाओं की तरफ से थाने में पुलिस द्वारा की गई मारपीट की शिकायत नहीं की गई है और किसी ने मेडिकल तक नहीं कराया है।

 87 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!
WhatsApp chat