एयर ट्रैवल के लिए मास्क जरूरी:DGCA ने कहा- मास्क न लगाने वाले यात्रियों को पुलिस के हवाले करें, फ्लाइट में ऐसा करने वाले पैसेंजर्स को बैन किया जा सकता है!

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते अब हवाई सफर के लिए भी नियम सख्त कर दिए गए हैं। डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने सभी एयरपोर्ट अथॉरिटीज को चिट्ठी लिखकर किसी भी यात्री को बिना मास्क के टर्मिनल में एंट्री न देने को कहा गया है। नई गाइडलाइन में एयरपोर्ट के अंदर मास्क न पहनने पर समझाइश और जुर्माने का प्रावधान है। वहीं, फ्लाइट के अंदर मास्क न पहनने पर यात्री को विमान से उतारने और उसका नाम नो-फ्लाई लिस्ट में भी डालने को कहा गया है।

DGCA की गाइडलाइन के मुताबिक, यात्रियों के एयरपोर्ट टर्मिनल में प्रवेश से लेकर हवाई सफर खत्म करने तक मास्क अनिवार्य किया गया है। इसके लिए कई जगह चेक पॉइंट सुझाए गए हैं। यानी, पैसेंजर्स को मास्क के लिए कहीं भी और कभी भी टोका जा सकता है। सलाह नहीं मानने पर कड़ी कार्रवाई का नियम बनाया गया है।

  • एयरपोर्ट टर्मिनल में मास्क बिना एंट्री नहीं: नई गाइडलाइन के मुताबिक, एयरपोर्ट टर्मिनल में बिना मास्क लगाए एंट्री नहीं मिलेगी। यात्रियों को मास्क लगाना होगा। एयरपोर्ट के अंदर मास्क न लगाने या सही से न लगा होने पर यात्री को टोका जा सकता है। यहां स्टाफ की बात न मानने पर यात्री को फ्लाइट में सवार होने से भी रोका जा सकता है।
  • फ्लाइट के अंदर भी मास्क पहनना जरूरी: फ्लाइट के अंदर मास्क न पहनने पर क्रू मेंबर्स मास्क लगाने के लिए कह सकते हैं। कहने के बावजूद मास्क न पहनने पर यात्रियों को विमान से उतारा जा सकता है। क्रू की बात नहीं मानने या विवाद करने पर यात्री का नाम नो-फ्लाई लिस्ट में डाला जा सकता है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री भी ऐसे यात्रियों को नो-फ्लाई लिस्ट में डालने की बात कह चुके हैं।

DGCA ने हर हाल में मुंह-नाक ढंकने को कहा
DGCA का ताजा निर्देश 30 मार्च को आया था। इसमें एयरपोर्ट परिसर से लेकर फ्लाइट में चढ़ने तक के दौरान सही तरीके से मास्क लगाना सुनिश्चित कराने को कहा गया है। इसके लिए एयरपोर्ट प्रशासन को स्थानीय पुलिस की मदद लेने को भी कहा गया है। एयरपोर्ट परिसर में यात्रियों को मास्क इस तरह से लगाना है कि (विशेष परिस्थितियों को छोड़कर) नाक और मुंह हर हाल में ढंका रहे।

हवाई यात्रा को लेकर DGCA का 30 मार्च को जारी किया गया सर्कुलर।

यात्रियों की लापरवाही बनी सख्ती की वजह
DGCA ने इससे पहले 13 मार्च को भी एक निर्देश जारी किया था। इसमें कहा गया था कि ऐसा देखने को मिल रहा है कि एयरपोर्ट परिसर में कई यात्री बिना मास्क लगाए घूमते मिलते हैं। अगर मास्क लगाते भी हैं तो वह गले तक लटका रहता है। कई यात्री फ्लाइट के दौरान भी सही तरीके से मास्क नहीं लगा रहे हैं। ऐसा न करने पर पहले समझाने को कहा गया। अगर यात्री फिर भी बात न माने तो उन्हें उपद्रवी करार देकर उनका नाम नो-फ्लाई लिस्ट में डाल दिया जाए।

DGCA ने 13 मार्च को जारी नोटिस में यात्रियों के बर्ताव पर चिंता जताई थी।

नए निर्देशों के बाद इंदौर में सख्ती
इंदौर की एयरपोर्ट डायरेक्टर आर्यमा सान्याल ने बताया नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने नो फ्लाई के संबंध में निर्देश जारी किए हैं। दिल्ली DGCA से भी सख्ती करने के निर्देश हैं। कोविड नियमों को न मानने वालों को नो-फ्लाई लिस्ट में भी डाला जाएगा।

इंदौर एयरपोर्ट पर आने वाले यात्रियों को मास्क पहने होने पर ही टर्मिनल बिल्डिंग के अंदर प्रवेश दिया जा रहा है
पटना एयरपोर्ट पर भी बरती जा रही है सख्ती
DGCA के इन निर्देशों पर पटना एयरपोर्ट पर भी सख्ती बरती जा रही है। हालांकि अभी तक किसी यात्री पर कार्रवाई नहीं हुई है, लेकिन सख्ती बढ़ा दी गई है। बिना मास्क के यात्रियों को एयरपोर्ट के अंदर नहीं आने दिया जा रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग पर भी सख्ती की जा रही है। DGCA के निर्देश न मानने वाले पैसेंजर्स को नियमानुसार सजा दिलाने की भी तैयारी है।।
पटना एयरपोर्ट पर सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क जैसे उपायों पर अमल को लेकर सख्ती बरती जा रही है।
Advertisement / विज्ञापन

यह होती है नो-फ्लाई लिस्ट
विमान में सफर करने वाले यात्रियों के लिए भी एक गाइडलाइन होती है। विमान में खराब व्यवहार करने, मारपीट करने, नशा करने या दूसरे यात्रियों या क्रू मेंबर को परेशानी में डालने वाले यात्रियों को नो-फ्लाई लिस्ट में डाल दिया जाता है। नो-फ्लाई लिस्ट में नाम आने पर पैसेंजर 6 महीने से लेकर 2 साल तक हवाई सफर नहीं कर सकेगा।

 17 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!
WhatsApp chat