jhabua MP Khulasa//पुलिस का रिश्वत काउंटर:खुले में टेबल लगाकर मोलभाव कर रहे थे चौकी प्रभारी, एक तरफ जाकर पैसे लिए और बोले, 3 हजार और देना!

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
चौकी के बरामदे में बैठकर रिश्वत के पैसों का मोल भाव कर रहे थे चौकी प्रभारी।

थांदला थाना क्षेत्र की खवासा चाैकी के प्रभारी एएसआई सुशील पाठक के रिश्वत लेते हुए वीडियो गुरुवार को एसपी के पास पहुंच गए। इन वीडियो में चौकी प्रभारी खुले में टेबल लगाकर रिश्वत का मोलभाव करते दिख रहे हैं। इसके बाद दूसरे वीडियो में चौकी के एक तरफ जाकर दो हजार रुपए लेते दिखे। रिश्वत लेने वाले से कह रहे हैं कि 3 हजार का और इंतजाम करना होगा।

वीडियो आने के बाद एसपी आशुतोष गुप्ता ने सुशील पाठक को निलंबित करने के आदेश जारी कर दिए। एसडीओपी थांदला को जांच करने के आदेश दे दिए। तीन वीडियो एसपी सहित दूसरे पुलिस अफसरों के पास गुरुवार सुबह पहुंचे। इसके फौरन बाद निलंबन के आदेश जारी किए गए। रिश्वत किस मामले में ली गई, अभी इसका खुलासा नहीं हुआ है।

संभावना है कि दो महीने पुराने किसी एक्सीडेंट के मामले में समझौता कराने को लेकर पुलिस ने आरोपी से रिश्वत मांगी। एसपी आशुतोष गुप्ता ने बताया, निलंबन के बाद एएसआई पाठक को पुलिस लाइन में अटैच कर दिया गया है। प्राथमिक जांच एसडीओपी को सौंपी है। उनकी रिपोर्ट के बाद विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

3 वीडियो में दिख रहा भ्रष्ट तंत्र का खुलापन

पहला वीडियो : चौकी परिसर के बरामदे में चौकी प्रभारी टेबल लगाकर बैठे हैं। यहां एक ग्रामीण युवक आया। वो आकर पैसे गिनने लगा। काफी देर तक पैसे गिने तो सुशील पाठक ने पूछा, कितने नोट गिन रहा, कितने लाया। युवक ने बताया, 1500 रुपए। एएसआई बोले, 1500 लाया, उसे भी गिनने में 10 घंटे लगा दिए। तभी पास बैठे पुलिसकर्मी (वीडियाे में नहीं दिख रहा) की आवाज आई, और गिन ना तू।

दूसरा वीडियो : ये भी उसी स्थान का है। इस वीडियो में सुशील पाठक युवक से केस के संबंध में पूछताछ कर रहे हैं। उससे कह रहे हैं, उस बालक का एक्स-रे करा लिया था ना। कुछ और बातें हैं, लेकिन आवाज पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है।

Advertisement / विज्ञापन

तीसरा वीडियो : इसमें सुशील पाठक चौकी के एक तरफ खड़े दिख रहे हैं। एक युवक पैसे देने के पहले पास खड़े अपने साथी से 500 रुपए मांगता है। ये पैसे 1500 रुपए में मिलाकर पाठक के हाथ में देता है। पाठक पूछते हैं, कितने हैं। युवक कहता है, दो हजार। फिर पाठक बोले, 3 और करना होंगे। भले दो-तीन दिन में कर देना।

 100 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!
WhatsApp chat