Newdelhi Khulasa//आम आदमी को राहत:छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में 1.10% तक कटौती का फैसला वापस, वित्त मंत्री बोलीं- आदेश भूल से जारी हुआ!!

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

केंद्र सरकार ने छोटी बचत योजनाओं में ब्याज दर कटौती का फैसला वापस ले लिया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार सुबह ट्वीट किया- यह फैसला भूलवश जारी हो गया था। भूल से जारी फैसले में नौ छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में 1.10% तक की कटौती की गई थी।

इस फैसले में PPF, सुकन्या समृद्धि योजना, किसान विकास पत्र, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट, मंथली इनकम स्कीम, टाइम डिपॉजिट, लेकरिंग डिपॉजिट और बचत खाते में जमा पैसों पर ब्याज दरें कम कर दी गईं थी। अब इन बचत योजनाओं में लाभार्थियों को पहले की तरह ब्याज मिलता रहेगा।

वित्त मंत्री ने क्या कहा?
वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा है कि स्मॉल सेविंग स्कीमों पर लागू दरें उसी स्तर पर बरकरार रहेंगी, जो वित्त वर्ष 2020-21 की आखिरी तिमाही पर थीं। उन्होंने आगे कहा कि दरें घटाने के पहले के ऑर्डर को जल्द ही वापस ले लिया जाएगा

12 घंटे में ही वापस लिया फैसला
सरकार ने 31 मार्च को रात करीब 9 बजे स्मॉल सेविंग स्कीम्स की ब्याज दरों में कटौती का फैसला लिया था। इसके बाद सुबह करीब साढ़े आठ बजे इस फैसले को वापस ले लिया।

वित्त मंत्रालय ने कल की थी ब्याज दरों में कटौती
सरकार ने बुधवार को स्मॉल सेविंग स्कीम्स की ब्याज दर में बड़ी कटौती की थी। इसमें पब्लिक प्रोविडेंट फंड PPF, नेशनल सेविंग स्कीम और सुकन्या समृद्धि योजना जैसी पॉपुलर स्कीम्स भी शामिल थीं। नई ब्याज दरें 1 अप्रैल 2021 से लागू होनी थीं। इसके तहत सेविंग डिपॉजिट पर ब्याज दर सालाना 4% से घटाकर 3.5 % कर दी गई थी। PPF की ब्याज दर 7.1% से घटाकर 6.4% की गई थी।

Govt cuts interest rates on small savings wef from April 1 Savings deposit revised from 4% to 3.5%,annually. PPF rate down from 7.1% to 6.4%,annually. 1 yr time deposit revised from 5.5% to 4.4%,quarterly. Senior citizen savings schemes rate down from 7.4% to 6.5%,quarterly&paid

1 अप्रैल 2020 ब्याज दरों में हुई थी कटौती

Advertisement / विज्ञापन

सरकार ने पिछले साल 1 अप्रैल 2020 को ही छोटी बचत योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज में कटौती की थी। तब इनकी ब्याज दरों में 1.40% तक की कटौती की गई थी। इसके बाद 31 मार्च 2021 को भी कटौती का फैसला लिया गया था, जिसे आज वापस ले लिया गया

 15 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!
WhatsApp chat