Khulasa Rajgarh M.P.:-समय सीमा निर्धारित पत्रों की समीक्षा

Advertisement / विज्ञापन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

समय सीमा निर्धारित पत्रों की समीक्षा



कलेक्टर नीरज कुमार सिंह के निर्देषानुसार में सी.ई.ओ.जिला पंचायत केदार सिंह एवं अपर कलेक्टर कमल चन्द्र नागर द्वारा कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समय सीमा निर्धारित पत्रों की समीक्षा की गई। इस अवसर पर वीडियों कान्फ्रेंस के माध्यम से सभी एस.डी.एम. सहित जिला अधिकारी शामिल हुये।
समय सीमा निर्धारित पत्रों की समीक्षा के दौरान सी.ई.ओ. जिला पंचायत द्वारा सी.एम. हेल्प लाईन की षिकायतों की समीक्षा करते हुये बताया कि अगर किसी षिकायत का गलत उत्तर की प्रविष्टी की गई है तो उसके सही उत्तर की प्रविष्टी करने की सुविधा है। सभी उसमें सुधार की सही उत्तर की प्रविष्टी की जा सकती है।


सी.ई.ओ. जिला पंचायत केदार सिंह ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देष दिए कि जांच में सम्बन्धित जो लम्बित पत्र है। उनमें जांच में विलम्ब न करें। शीघ्रता से निबटांए। उन्होने कहा कि निलम्बन के मामले में विभागीय जांच अधिक समय तक लम्बित रखना गलत है। जो भी तथ्य हो उसके आधार पर शीघ्र निराकरण करें। इसी क्रम में डिप्टी कलेक्टर सुश्री रोषनी वर्धमान ने बताया कि तहसीलदार राजगढ़ के पास आर्थिक सहायता का प्रकरण लम्बित है। जिसके संबंध में ए.डी.एम. कमल चन्द्र नागर ने कहा कि आर्थिक सहायता का प्रकरण दो दिवस में निराकरण करें।
बैठक में सभी एस.डी.एम. तहसीलदार को निर्देषित किया कि किसी भी दषा में सी.एम. हेल्प लाईन में सीमांकन की षिकायतों आवष्यक रूप से लंबित न रहे यह सुनिष्चित करें। बैठक में वनाधिकार पट्टो की भी समीक्षा की गई तथा वनाधिकार पट्टो के संबंध में एस.डी.एम. द्वारा की गई कार्यवाही की जानकारी ली।

Advertisement / विज्ञापन


बैठक में एक अप्रैल से ई-आफिस की प्रक्रिया प्रारम्भ करने हेतु कार्यवाही करने, कब्बडी प्रतियोगिता के आयोजन, प्रधानमंत्री आदर्ष ग्राम तथा दो ग्रामों को सौर ऊर्जा के लिये चयन करने के निर्देष एस.डी.एम. को दिये। बैठक में पी.डब्ल्यू,डी. को जीर्णषीर्ण भवनों का अपलेघन कर डिसमेंटल करने के निर्देष दिये।

 200 Total Views,  1 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English हिन्दी हिन्दी
Don`t copy text!
WhatsApp chat